Academics

पाठ्यक्रम

विद्यालय का पाठ्यक्रम दो भाग में हैं:

  1. चेतना विकास मूल्य शिक्षा व् व्यक्तित्व विकास  
  2. अध्यवसायिक (academics)  

 

इनका विभाजन इस प्रकार से है:

  • नर्सरी से कक्षा पांच तक: 50 % चेतना विकास मूल्य शिक्षा व व्यक्तित्व विकास और शेष भाग अध्यवसायिक
  • कक्षा छटवीं से आठवीं तक: 40% चेतना विकास मूल्य शिक्षा व् व्यक्तित्व विकास और शेष भाग अध्यवसायिक
  • आठवीं पश्चात: 20% चेतना विकास मूल्य शिक्षा व् व्यक्तित्व विकास और 80% अध्यवसायिक

चेतना विकास मूल्य शिक्षा व् व्यक्तित्व विकास का भाग मानव तीर्थ के सदस्य उपकार विधि से पढ़ा रहे हैं। अध्यवसायिक भाग मानव तीर्थ के मार्गदर्शन से अलग विषयों के विशेषज्ञ शिक्षक पढ़ा रहे हैं।  साथ ही, सभी शिक्षक अध्यवसायिक व् चेतना विकास मूल्य शिक्षा और व्यक्तित्व विकास को सम्प्रेषित करने के लिए सक्षम हो जाएँ, इसके लिए उनके प्रशिक्षण पर अधिक समय दिया जा रहा है।